हमारे परम् पूज्य गुरू जी का संदेश ःमाता-पिता को दें छह तोहफे।

1. पैर छूकर हर दिन का करें शुरुआत ःयदि आपके माता-पिता आपके पास हैं तो यह जरूर कर सकते हैं।कुछ लोग कहते हैं कि पैर छूना दकियानूसी है ।पर यह अपनी अच्छी आदत,संस्कृति को छोडना बुद्धिमानी नहीं है

2.सप्ताह मे एक दिन अपने माता-पिता के साथ कुछ घंटे बातें करने के लिए निर्धारित करें।उनके साथ गप्पें मारे,धीरज से उनकी बातें सुनें, उनके साथ मस्ती कर सकते हैं।उनको आपकी उपहार नहीं आपका सानिध्य चाहिए।और हाँ,इस समय अपना मोबाइल बंद रखें।

3.हर साल अपने माता-पिता के साथ देश-विदेश उनकी पसंद की जगह एक बार घूमने जरूर जाइए।

4.उनकी पसंद का कोई तोहफा साल मे कम से कम एक बार सरप्राइज जरूर दीजिए।

5. उन्हें दान करने के लिए फंड/धनराशि सौंप दे।

6. किसी भी परिस्थिति में उनका अनादर/अपमान करने को ना सोंचे।आप असहमत/मत विभेद हो सकते हैं।आपको अलग राय रखने का हक है, अनादर का नहीं।संकल्प लें कि हर हाल में उनका मान बनाए रखेंगे।💐